राज्य का कार्य: हिमाचल प्रदेश सरकार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए क्या क़दम उठा रही है?

15 April 2020
राज्य का कार्य: हिमाचल प्रदेश सरकार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए क्या क़दम उठा रही है?
पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा और पंचायती राज विभाग क्या कर रहे हैं? पढ़ें ब्लॉग

पोषण

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • आई.सी.डी.एस. निदेशालय द्वारा जिला प्रोजेक्ट अधिकारियों को आदेश दिया है कि पोषाहार लाभाथीं के घर-घर पहुंचाया जाए |
  • ज़िला प्रोजेक्ट अधिकारी की ओर से CDPO को निर्देश मिले हैं कि आँगनवाड़ी कार्यकर्ता और साहियका के द्वारा अपने क्षेत्र में आने वाले लाभार्थीयों के लिए अप्रैल के पहले सप्ताह में घर-घर सप्लाई को सुनिश्चित किया जाए |
  • हिमाचल प्रदेश प्रारंभिक शिक्षा निदेशक की और से बच्चों को मिड-डे मील के अंतर्गत मिलने वाले चावल वितरित करने का आदेश है | 
  • निर्देशों के अनुसार, स्कूल प्रशासन अभिभावक को स्कूल बुलाकर कुंकिग लागत राशि प्रदान करेंगे |
  • स्त्रोत: हिमाचलप्रदेश आई.सी.डी.एस. अधिसूचना दिनांक 20/03/2020 http://nrhmhp.gov.in/sites/default/files/files/WCD_3-Advisory_Closure%20...
  • स्त्रोत : हिमाचल प्रदेश मिड डे मील अधिसूचना दिनांक 20/03/2020
  • https://himachal.nic.in/WriteReadData/l892s/16_l892s/U2003a-62576970.pdf

स्वास्थ्य

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • स्वास्थ्य विभाग की 14 सदस्य टीम घर-घर जागरूकता और हैल्थ चेकअप करेंगी | 
  • घर-घर जाकर परिवार के सभी सदस्यों की स्क्रीनिंग होगी एवं कोरोना को लेकर जागरूकता सन्देश परिवार के सभी सदस्यों को बताया जाएगा |
  • यह कैम्पेन 3 अप्रैल से 9 अप्रैल तक चलेगा, प्रत्येक टीम ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के प्रतिदिन अधिकतम 30 घरों का सर्वे पूरा करना होगा |
  • स्वास्थ्य विभाग के हैल्थ वर्कर, हेल्थ सुपरवाईजर, ए.एन.एम, हेल्थ एजुकेटर  इत्यादि और सम्बन्धित क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता टीम  में शामिल होगी |
  • जानकारी गूगल फार्म में भरी जायेगी और प्रतिदिन शाम 4:30 तक पूरे दिन की रिपोर्ट सबमिट कर दी जानी चाहिए |
  • स्त्रोत : हिमाचल प्रदेश अधिसूचना 30 मार्च 2020  http://covidorders.hp.gov.in/frontend/web/writeData/Shimla/c98c381f44596...
  • राज्य स्वास्थ्य विभाग ने सभी ज़िलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए है कि दूसरे राज्य से आने वाले व्यक्तियों को 28 दिनों की निगरानी के लिए राज्य के बार्डर पर बनाये गये क्वारटीन केन्द्रों में रखा जाए | इस अवधि के पूरा होने के बाद स्वास्थ्य चैकअप के बाद घर जाने की अनुमति दी जाएगी| 
  • स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार एक राज्य से दूसरे राज्य में आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई करने वाले वाहन चालकों की लिए राज्य की सीमाओं पर स्क्रीनिंग सेंटर बनाये जाये, इन स्क्रीनिंग सेंटर के आस-पास में कम से कम 15-20 बेड वाले अस्थाई क्वारनटीन केन्द्रों की स्थापना की जाए |
  • राज्य स्वास्थ्य विभाग ने सभी ज़िला अधिकरियों को निर्देश दिए है कि वह केंद्र सरकार द्वारा तैयार की गई ‘आरोग्य सेतू’ एप का डाउनलोड चिन्हित व्यक्तियों के द्वारा सुनश्चित करें| 
  • स्त्रोत : हिमाचल प्रदेश अधिसूचना 30 मार्च 2020  http://covidorders.hp.gov.in/frontend/web/writeData/Shimla/c98c381f44596... (30.03.2020)
  • स्त्रोत:https://prsindia.org/files/covid19/notifications/2869.HP_Order_regarding... (16.04.2020)
  • स्त्रोत: https://prsindia.org/files/covid19/notifications/2860.HP_Order_regarding... (15.04.2020)
  • स्त्रोत:http://covidorders.hp.gov.in/frontend/web/writeData/Shimla/c431853b9ab0a... (22.04.2020)

शिक्षा

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • 4 अप्रैल से “समय 10 से 12 हर घर बने पाठशाला” अभियान की शुरुआत कक्षा 9 से 12 के लिए हुई है।
  • विभाग की टीम शिक्षकों को व्हाट्सप्प के माध्यम पढ़ाई करवाने के लिए अधयन्न सामग्री भेजगी।
  • शिक्षकों को निर्देश बच्चों के अभिभावकों के फोन नम्बर कक्षावार व्हाट्सप्प (WhatsApp) ग्रुप में जोड़ने के आदेश मिले हैं।  
  • प्रतिदिन ग्रुप में स्टडी मेटेरियल अपलोड किया जाएगा, बच्चों व अभिभावक सम्बन्धित विषय को लेकर कुछ समझ न आने पर शिक्षक से बातचीत कर सकते है | 
  • विभाग ने वेबसाईट का निर्माण किया है, जिसमे बच्चों के अभ्यास के लिए प्रतिदिन कक्षावार पाठ्यक्रम अपलोड किया जाता है | दैनिक मानिटरिंग फ़ार्म प्रतिदिन अध्यापकों द्वारा भरा जाएगा।  शिक्षकों को यह फ़ार्म हर शाम 5 बजे से पहले भरना है |   
  • राज्य उच्च शिक्षा विभाग ने सभी निजी शिक्षण संस्थानों को निर्देश दिये है कि वह कोरोना वायरस की वजह से अभिभावक से फीस की माँग, फीस वृद्धि को लेकर दबाव न डालें |  
  • स्त्रोत : हिमाचल प्रदेश अधिसूचना दिनांक 04/04/2020
  • http://educationhp.org/Files/eContent13.pdf04_43_2020_05_04_20.pdf (05.04.2020)
  • स्त्रोत :  http://educationhp.org/Files/79_Fee.pdf25_19_2020_05_04_16.pdf

(25.04.2020)

पंचायती राज

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा घर-घर में फोन के माध्यम से यह जानकारी ली जा रही है कि कोई उनके परिवार में विदेश से, दूसरे राज्य से या ज़िले से मार्च के पहले सप्ताह से कोई आया है, और अगर हाँ, तो इसका डाटा ज़िला  प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को दिया जा रहा है।
  • परिवार में खासी, बुखार से पीड़ित व्यक्ति का डाटा स्वास्थ्य विभाग को दिया जाएगा |
  • सभी ग्राम पंचायतों में कोरोना से बचाव सबंधित जागरूकता संदेश लाऊंडस्पीकर के माध्यम से पहुंचाया जाएगा |
  • ज़िला प्रशासन की और से निर्देश है कि ग्राम पंचायत प्रतिनिधि कोरोना सम्बन्धी जागरूकता का काम करेंगे और संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान करेंगे |
  • ग्राम पंचायतों में मास्क पहनना व समाजिक दूरी की अनुपालना सुनश्चित करना अनिवार्य है, इसके अलावा ग्राम पंचायत में कोई सामजिक दूरी के नियमों की अवहेलना करता है तो ग्राम पंचायत उस व्यक्ति पर 100 रूपये का जुर्माना खंड विकास अधिकारी के आदेशानुसार लगा सकती है | 
  • स्त्रोत:http://covidorders.hp.gov.in/frontend/web/writeData/Shimla/20028b62c04ae...
  • स्त्रोत: पंचायती राज विभाग द्वारा सभी खंड विकास अधिकारियों को सोशल डिस्टन्सिंग के बारे में सर्कुलर (21.04.2020)

(यह जानकारी समय-समय पर अपडेट होगी।)

आख़री अपडेट: अप्रैल 27

The views shared belong to individual faculty and researchers and do not represent an institutional stance on the issue.