राज्य का कार्य: बिहार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए क्या क़दम उठा रहा है?

14 April 2020
राज्य का कार्य: बिहार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए क्या क़दम उठा रहा है?
पोषण, स्वास्थ्य, और शिक्षा विभाग क्या कर रहे हैं? पढ़ें ब्लॉग

पोषण

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • आई.सी.डी.एस. योजना के अंतर्गत गर्भवती एवं धात्री लाभार्थियों को भोजन/सूखा राशन के बदले समतुल्य नकद राशि मिलेगी जो बैंक खातों में जमा होगी, जबकि बच्चों के भोजन की राशि की गणना कर अभिभावक के खातों में जमा करी जायगी | 
  • स्कूल बंद होने की वजह से मिड-डे मील के लाभ के रूप में बच्चों के खातों में राशि डाली जायेगी | 
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को अप्रैल और मई महीने में 5 किलोग्राम मुफ्त चावल आवटंन करने का निर्णय किया गया है |
  • बिहार सरकार ने मुख्यमंत्री राहत कोष से 100 करोड़ रूपये जारी किये है | यह राशि बिहार से कार्य के लिए बाहर गए रिक्शा चालक, दैनिक मज़दूर  के भोजन और रहने की व्यवस्था के लिए  सम्बन्धित राज्य सरकारें और ज़िला प्रशासन करेगा |
  • स्त्रोत:https://prsindia.org/files/covid19/notifications/250.BR_Preventive_Measu... (13.03.2020)
  • स्त्रोत:https://prsindia.org/files/covid19/notifications/1526.BR_PMGKY_Free_Rice... (1.04.2020)
  • स्त्रोत:https://prsindia.org/files/covid19/notifications/265.BR_Press_Release_Re... (26.3.2020)

स्वास्थ्य

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • आशा कार्यकर्ता और आशा फेस्लीटेटर कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव से बचाव के लिए घर घर जागरूकता संदेश का प्रचार-प्रसार करेंगी |
  • प्रतिदिन आँगनवाड़ी कार्यकर्ता और आशा फेस्लीटेटर द्वारा 25 घरों का भ्रमण किया जाना है |  
  • संक्रमित व्यक्तियों की पहचान कर उनका विवरण संलग्न पत्र में भर कर बी.सी.एम को उपलब्ध करवाया जाएगा  |   
  • अधिकतम 8 दिनों में आशा कार्यकर्ता को कार्य क्षेत्र में आने वाले सभी घरों का निरीक्षण पूरा किया जायेगा |  
  • इस कार्य के लिए  फेस्लीटेटर को मास्क, ग्लब्ज एवं कैप उपलब्ध करवाया जाएगा |
  • आशा कार्यकर्ता और आशा फेस्लीटेटर को प्राप्त दैनिक प्रतिवेदन को संकलित कर अगले दिन 12 बजे तक ज़िला स्वास्थ्य समिति को उपलब्ध करवाना होगा |  
  • स्त्रोत://prsindia.org/files/covid19/notifications/1544.BR_Advisory_Sanitisation_Containment_Zone_Mar_26.pdf (26.3.2020)

शिक्षा

राज्य ने क्या कदम उठाये हैं?

  • बिहार शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार कोरोना महामारी संकट के चलते सत्र 2019-20 में कक्षा 1 से कक्षा 11 में पढ़ने वाले (कक्षा 10 को छोड़कर ) छात्र-छात्रों को बिना वार्षिक परीक्षा के अगली कक्षा में प्रोन्नति दी जायेगी |  
  • निर्णय का अनुपालना सभी प्राचार्यों एवं प्राध्यापकों के द्वारा किया जाए, इसकी सूचना सभी जिलापदाधिकारी/शिक्षापदाधिकारी को पत्र के माध्यम से दी गई है  |
  • स्त्रोत: http://education.bih.nic.in/Education/LetterPdf/09Apr202011503575.pdf (08.04.2020)

(यह जानकारी समय-समय पर अपडेट होगी।)

आख़री अपडेट: अप्रैल 9

The views shared belong to individual faculty and researchers and do not represent an institutional stance on the issue.